स्टेम सेल बैंकिंग क्या होता है || कॉर्ड ब्लड बैंकिंग क्या होता है || स्टेम सेल और काॅर्ड को कैसे संरक्षित करे

स्टेम सेल बैंकिंग क्या होता है || कॉर्ड ब्लड बैंकिंग क्या होता है || स्टेम सेल और काॅर्ड को कैसे संरक्षित करे

स्टेम सेल बैंकिंग क्या होता है || कॉर्ड ब्लड बैंकिंग क्या होता है || स्टेम सेल और काॅर्ड को कैसे संरक्षित करे

स्टेम सेल बैंकिंग क्या होता है | स्टेम सेल और काॅर्ड को कैसे संरक्षित करे


इंपॉर्टेंट हाइलाइट्स  

  1. (STEM CELL)  स्टेम सेल बैंकिंग
  2. (STEM CELL) स्टेम सेल से आपके स्वास्थ्य के लिए क्यों महत्वपूर्ण है 
  3. अलग अलग बीमारियों में स्टेम सेल का क्या इस्तेमाल होता है 
  4. (STEM CELL) स्टेम सेल से किन किन बीमारियों का इलाज किया जाता है 
  5. (STEM CELL) स्टेम सेलबैंकिंग कहां पर रजिस्टर करें 
  6. स्टेम सेल बैंकिंग का प्रोसेस क्या है 
  7. स्टेम सेल बैंकिंग में कितना खर्च होता है 
  8. (STEM CELL) स्टैंम सेल क्या होते हैं  

स्टेम सेल क्या होते हैं 

हमारे शरीर में सैकडो तरह के सेल होते है । जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं । इसे हर दिन हमारे शरीर को चलाने के लिए हमारे हार्टबीट हमारी धड़कन, हमारे दिमाग को सोचने के लिए, किडनी को बराबर काम करने के लिए, किडनी को खून साफ करने के लिए, पुरानी सेल्स को हटाकर नहीं सेल्स बनाने के लिए , इन सभी कामों के लिए हमें स्टेम सेल की जरूरत होती है । क्योंकि इन सभी चीजों को चलाने का काम स्टेम सेल ही कर सकता है । जब स्टेम सेल विभाजित होते हैं तो नए स्टैंसिल बन जाते हैं यह दूसरे नए स्टैंसिल बन जाते हैं ।


स्टेम सेल हमारे शरीर के लिए क्यों जरूरी है -


स्टेम सेल हमारे शरीर के लिए इसलिए जरूरी है क्योंकि जब हम बीमार होते हैं या फिर हमें चोट लग जाती है । तब हमारे पुरानी सेल डैमेज हो जाते हैं । यह पूरी तरह से मर जाते हैं ऐसी कंडीशन में जो हमारे शरीर में एक्टिव सेल होते हैं वह जागरूक हो जाते हैं । और जो सेल क्षतिग्रस्त हो गए हैं उनको सुधारने के लिए उनको रिपेयर करने के लिए मरे हुए सेल की जगह पर नए सेल को प्रदान कर देते हैं । इस तरह से हमारी चोटे होते हैं और बीमारियां होती है वह ठीक हो जाती है  ।इसलिए स्टेम सेल हमें स्वस्थ रखने में मदद करते हैं । और समय से पहले हमें बूढा होने से भी बचाते हैं । ये हमारे एक सुरक्षा कवच की तरह होते हैं ।


(Stem CELL)  स्टेम सेल बैंकिंग 

वो सेल जो किसी भी प्रकार के सेल में विकसित हो सकते है , जो गर्भवती महिलाओ के नाभि या Umbilical Cord को संरक्उषित करने की हामी भरती है उनकी स्टेम सेल बैंकिंग की जाती है |जब एक बच्चा पैदा होता है या यूँ कहे जब एक बच्चे का बीज पेट में आता है । तब उस वक़्त वो एक सेल के रूप में होता है | दूसरे शब्दों में यह कह सकते है जब अंडाशय पेट में आता है तो वह मल्टी पोटेल सेल की तरह होता है । बाद में विकसित होकर वो बच्चा बन जाता है |क्यूंकि उस सेल में क्षमता होती है की अलग अलग तरह के सेल बना सके -

"जैसे कि:- दिमाग , दिल , हड्डियां , किडनी आदि । सिर्फ एक सेल से तरह तरह के टिश्यू विकसित होते है इसीलिए इसे हम मल्टी पोटेंट सेल्स कहते है "

         जब एक बच्चा पैदा होता है तो वह अपनी माँ के साथ नाभि से जुड़ा होता है । उस नाभि के अंदर एक डोरी या नाल होती है वो नाल बच्चे को अपनी माँ से जोड़े रखती है | उस नाल के अंदर बच्चे का खून होता है , उस नाल को जब काटा जाता है तब उसमे से बच्चे का खून निकलता है | उस खून को अलग सिरिंज से निकाल लिया जाये तो कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्यूंकि वो किसी के काम का नहीं होता है और नाल काटने के बाद यू ही बर्बाद हो जाता है |
           अगर उस खून को सिरिंज कि सहायता से निकाल लेते है और स्टोर ( जमा ) कर लिया जाये जो कि सिर्फ १५-२० मिलीलीटर होता है , तो उस खून में मौजुद मल्टी पोटेंट स्टेम सेल की मदद से कई अलग अलग बीमारी का इलाज किया जा सकता है | उस खून में अलग अलग सेल को विकसित करने की क्षमता होती है |

बीमारी जिसके इलाज के लिए इसका इस्तमाल करते है 


A) Leukema (Blood Cancer)
B) LymPhomas (Cancer)
C) Multipe myeloma

ये अलग अलग तरह के कैंसर होते है | रिसर्च से ये सिद्ध हो चूका है की अलग अलग तरह के कैंसर के इलाज के लिए स्टेम सेल का इस्तमाल कर सकते है | भविष्य में यदि आपके बच्चे को किसी लाइलाज बीमारी का सामना करना पड़ता है तो उसी का खून जो की जन्म लेते वक़्त स्टेम सेल से निकाला गया था उसी के इलाज में इस्तमाल किया जा सकता है | इसके अलावा आप इस खून को दूसरे लोगो के साथ भी बांट (Share) सकते है |
    क्योकि बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जिनके पास इस तरह की बैंकिंग या स्टोरीज नहीं होती, ताकि वह अपने ब्लड कैंसर का इलाज करवा सके । ऐसे में आपका स्टोरेज उन लोगों की भी मदद कर सकता हैं यानी कि आप उन्हें ये Stem Cell बेच सकते हैं, ताकि उनके कैंसर का इलाज किया जा सके । और अब तो इसे एफडीए से Approval भी मिल चुका है । कि Stem Cell Cancer के ट्रीटमेंट के लिए सबसे ज्यादा बेस्ट माना जाता है ।

स्टेम सेल बैंकिंग कैसे करवाएं ?

इसके प्रोसेसिंग और Storage की फीस आपको बैंक को देनी होती है । इसके लिये प्रेगनेंसी के दौरान आपको अपने गायनेकोलॉजीस्ट से बात करनी होती है । वो आपको सारी जानकारी देती है । अगर आपको उनकी दी गई जानकारी अच्छी लगती है तो आप इस प्रोसेस को अपना सकते हैं । इसमें आपका कोई नुकसान नहीं होता बल्कि इससे बहुत सारे फायदे ही होते हैं ।
       ऐसी बहुत सारी कंपनी है जैसे कि Life Cell or Cord Life जो आपको यह सर्विस प्रोवाइड करती है । इसके लिए आपको उनसे बात करनी होती है उसके बाद उस कंपनी के वर्कर आपके घर आते हैं और आपको इसके बारे में सारी जानकारी देते हैं । ठीक उसी तरह से जैसे किसी बैंक का कर्मचारी आपके घर आकर आपको बैंक के किसी स्कीम के बारे में बताता है । यह भी बिल्कुल उसी तरह ही होता है । उस कंपनी का भी वर्कर आपके घर पर आकर आपको अपने स्कीमों के बारे में समझाता है, कि :-

उनके पास कितने स्कीम है
आपको पेमेंट कैसे करनी होगी ।
इंस्टॉलमेंट स्कीम क्या है ।
कितने साल तक आप इस स्टेम सेल को Store कर सकते हैं।
कब आप इस स्कीम को बंद कर सकते हैं ।
अगर आप बीच में सब बंद करते हैं तो आपको कितने पैसे मिलेंगे ।
क्या आप इस Stem Cell को दूसरे लोगों के साथ भी Share करना चाहेंगे , यानी कि कम्युनिटी बैंकिंग करना चाहेंगे । क्योंकि दुनिया में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो ऐसा नहीं कर पाए हैं और उन्हें इस तरह के स्टेम सेल की जरूरत उनकी बीमारी के इलाज के लिए चाहिए होती है । अब आप उनकी मदद कर सकते हैं जिससे आपको पैसे मिलते हैं । यानी कि आप अपने स्टैंसिल को उन्हें बेच सकते हैं ।

वह कौन सी बीमारियां है जो आने वाले टाइम में स्टेम सेल से इनका इलाज किया जाएगा 

ऐसी बीमारियां जिन पर रिसर्च चल रहा है जिनकी स्टेम सेल का इस्तेमाल करके इलाज किया जा सकेगा जैसे कि डायबिटीज है यानी कि शुगर, थायराइड, ऑस्टिन - ऑस्टिन एक तरह की मेंटल बीमारी है जो बच्चों में पाई जाती है । यह कुछ बीमारिया है जिन पर अभी रिसर्च चल रहा है और आने वाले टाइम में इन में सफलता भी मिलेगी ।

स्टेम सेल और अंबिलिकल कॉर्ड में क्या अंतर है


बहुत से कंपनियों ने अब कोर्ड से निकलने वाला ब्लड ही नहीं बल्कि अंबिलिकल कॉर्ड को भी प्रिजर्व यानी कि संरक्षित करना शुरू कर दिया है । आखिर इन दोनों में क्या अंतर होता है । जो ब्लड संरक्षित किया जाता है उसके अंदर स्टेम सेल होते हैं जोकि मैंने आपको ऊपर बताया उसके काम होता है बीमारियों से लड़ना और नए स्टेम सेल्स को तैयार करना  । इसके अलावा नाभि का टुकड़ा जिसे 3 इंच का काटकर संरक्षित किया जाता है । तो उसमे कुछ Mesenchyment Cells होते है जो नाडी के चारो तरफ होती है और उसे ब्लड सप्लाई करती है । जब उस नाडी के टुकड़े को खोला जाता है ।  जो एक तरह से नाड़ी को चारों तरफ से प्रोटेक्ट करती है  ।उसको बचा कर रखती है ।
      लेकिन जब उसे निकालकर संरक्षित कर लिया जाता है तो आगे चलकर वह भी किसी न किसी तरह की बीमारी के इलाज में इस्तेमाल होती है । इसलिए जब आप स्टैंमसेल को संरक्षित करना चाहते हैं तो आप कंपनी से बात करके Cord को भी संरक्षित करने की बात कर सकते हैं । तब कंपनी आपको समझायेगी  कि आपको इसके लिए क्या करना होगा । और उसके लिए आपको क्या चार्ज करना होगा । इसमें आपका कोई नुकसान नहीं होता सिर्फ आपका थोड़ा पैसा ही खर्च होता है । मगर थोड़े पैसे खर्च करके यही चीज जो आपके किसी लाइलाज बीमारी से बचाएगी तो इससे अच्छा कुछ नहीं हो सकता । क्योंकि इससे हम अपने परिवार की नहीं बल्कि हम दूसरों के परिवार की रक्षा भी कर सकते हैं  ।इसलिए अगर आप इसके लिए शुरू से ही तैयार हैं तो आपको अपने डॉक्टर से बात करना नहीं चाहिए । जब डिलीवरी का समय होगा आप या आपका डॉक्टर उन्हें फोन कर देंगे । वह खुद अपना किट लेकर आते हैं । और स्टेम सेल या कोर्ड को संरक्षित करते हैं । इसमें आपको कुछ भी नहीं कर रहा होता है ।

अधिक जानकारी चाहते हैं तो उनकी वेबसाइट पर यहां क्लिक करें

यहां भी Register कराये Click here

दोस्तो आपको ये पोस्ट कैसा लगा आप मुझे कमेंट करके जरूर बताइएगा और आप किस बारे में और जाना चाहते हैं वह भी मुझे बताइए इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद




Post a comment

0 Comments