Breaking News-पीएम नरेंद्र मोदी ने वन नेशन वन कार्ड को लांच किया जानिये इसकी खासियत

'वन नेशन वन कार्ड', इंटर-ऑपरेटिव ट्रांसपोर्ट कार्ड रखने वालो को अपनी बस यात्रा, टोल टैक्स, पार्किंग शुल्क, खुदरा खरीदारी और यहां तक ​​कि पैसे निकालने का लाभ देगा।


पीएम नरेंद्र मोदी ने वन नेशन वन कार्ड को लांच किया जानिये इसकी खासियत
पीएम नरेंद्र मोदी ने वन नेशन वन कार्ड को लांच किया जानिये इसकी खासियत

   ये NCMC की घोषणा प्रधानमंत्री जी ने अहमदाबाद मेट्रो ट्रेन सेवा के पहले चरण का उद्घाटन करते हुए किया।
अहमदाबाद के इस मेट्रो का पहला चरण 6.5 किलोमीटर लंबा है ।
       पीएममोदी ने कहा "यह कार्ड RuPay कार्ड पर चलता है और यह आपकी यात्रा संबंधी सभी समस्याओं को समाप्त कर देगा। कई बार, मेट्रो, बस या ट्रेन में यात्रा करते समय या टोल और पार्किंग के लिए हमें नकद में भुगतान करना पडता है और खुले पेसे नहीं होने की समस्या का सामना करना पड़ता है। इस मुद्दे को दूर करने के लिए।" एक स्वचालित किराया संग्रह प्रणाली शुरू की गई थी, " ।

उन्होंने कहा कि भारत इस प्रणाली को विदेशों से आयात करना पडता था।
      उन्होंने कहा, "चूंकि सिस्टम विभिन्न चीजो के लिये बनाया गया था, इसलिए एक शहर में जारी किया गया कार्ड दूसरे शहर में काम नहीं करता था। इस प्रकार, हमने विभिन्न मंत्रालयों, विभागों और यहां तक ​​कि बैंकों से इस मुद्दे को हल करने के लिए कहा।"
"अब, 'वन नेशन वन कार्ड' के हमारे सपने को साकार किया  है। लोग इस कॉमन मोबिलिटी कार्ड का उपयोग करके पैसे भी निकाल सकते हैं। इस RuPay कार्ड का उपयोग देश के किसी भी हिस्से में महानगरों में यात्रा करने के लिए किया जा सकता है।
       साधारण शब्दों में, प्रधान मंत्री ने कहा कि RuPay कार्ड को मोबिलिटी कार्ड में मिला दिया।
उन्होंने कहा कि इस स्वदेशी रूप से विकसित और अपनी तरह के कार्ड के आगमन के साथ, देश को विदेशी प्रौद्योगिकी पर निर्भर होने की आवश्यकता नहीं है।
मोदी ने कहा, "अब हमारे पास 'मेड इन इंडिया' कार्ड है। कुछ चुनिंदा देशों के पास ही 'वन नेशन वन कार्ड' की तकनीक है।"


     मेट्रो, बस, उपनगरीय रेलवे, टोल, पार्किंग, स्मार्ट सिटी और खुदरा खरीदारी सहित सभी क्षेत्रों में भुगतान करने के लिए एक ग्राहक इस एकल कार्ड का उपयोग कर सकता है।
इसमें कहा गया है कि कार्ड पर संग्रहित मूल्य हिस्सेदारी रखने वालों के लिए कम से कम वित्तीय जोखिम के साथ सभी यात्रा आवश्यकताओं के लिए ऑफ़लाइन लेनदेन का समर्थन करता है। इस कार्ड की सेवा क्षेत्र की सुविधा ऑपरेटर विशिष्ट अनुप्रयोगों जैसे मासिक पास, सीज़न टिकट आदि का सपोट करती है।
      देश में ऑटोमैटिक फेयर कलेक्शन सिस्टम (एएफसी) के कार्यान्वयन से जुड़ी अब तक की बड़ी चुनौती स्वदेशी समाधान प्रदाता की कमी है।
"अब तक, विभिन्न मेट्रों पर तैनात एएफसी सिस्टम विदेशियो  से आयात हैं। वेंडर लॉक-इन से बचने और इंटर-ऑपरेटेबल सिस्टम बनाने के लिए, मेक इन इंडिया पहल के तहत स्वदेशी मानकों और एएफसी सिस्टम को विकसित करने की आवश्यकता थी।" ।

Post a comment

0 Comments