मेरा जन्मदिन - निबंध

हम तीन भाई बहन है | घर में मैं सबसे छोटी हूँ और दो भाइयो के बीच अकेली बहन हूँ इसलिए सब मुझे बहुत प्यार करते है | माता - पिता मेरा बहुत ध्यान रखते है |हम भाई बहन में हमारे माता पिता कोई भेद भाव नहीं रखते है वो सामान रूप से हमें प्यार और सम्मान देते है | मैं भी उन सबको बहुत प्यार करती हूँ |


      मेरा जन्म 16 अक्टूबर को हुआ था | इसी दिन हर साल मेरा जन्मदिन मनाया जाता है | इस दिन घर में बड़ी चहल पहल और खुशनुमा माहौल रहता है |एक दिन पहले से ही तैयारियां शुरू हो जाती है | और साथ ही आस - पास के लोगो को मेरे भाई निमंत्रण देने जाते है | 

           इस दिन मेरे सारे मित्रो को पिता जी बुलाते है साथ ही उनके परिवार वालो को भी निमंत्रण दिया जाता है |सभी लोग मुझे जन्मदिन की बधाई तथा लम्बी उम्र का आशीर्वाद देते है | फिर मैं केक कटती हूँ उसके बाद सभी मुझे कुछ न कुछ तोहफा देते है |उसके बाद हम सभी बच्चे खून नाचते गाते है और साथ ही बहुत मस्ती करते है | जो लोग नहीं आ पाते है वो अपना सन्देश और उपहार किसी के हाँथ भिजवा देते है |केक काटने और मोमबत्तिया बुझाने के समय पूरा कमरा तालियों कि आवाज़ से गूंज उठता है | सब लोग पहले केक खाते है फिर भोजन का आनंद उठाते है | कोक ठंडा आदि का लुप्त उठाते है | मेरे पिता जी मेरे लिए मेरे मनपसंद का उपहार लेट है | मेरे भाई भी अपने पैसो से मेरे लिए कुछ न कुछ लेते है | सभी उस दिन बहुत ही खुश रहते है | सबके चले जाने के बाद हम सरे उपहार खोल कर देखते है और खुश होते है | कई बार मैं सोचती हूँ कि मेरा जन्मदिन साल में एक बार ही क्यों आता है |

Post a comment

0 Comments