दस नर्सरी कविताये | Ten Most Famous Nursary Poems

 1. प्रार्थना 

हे भगवान हे भगवान
हम बच्चे तेरे नादान ।
पढ़ लिखकर हम बने महान
ऐसा दो हमको वरदान ।


2. पतंग

मुन्ना लाया एक पतंग ,
उड़ती है जो डोर के संग ।
आसमान तक जाती है ,
सबके मन को भाटी है ।

3. होली

रंग बिरंगी होली आयी ,
सब बच्चो में मस्ती छायी ।
भरकर रंग गुलाल में होली
निकल पड़ी बच्चो की टोली ।

4. माँ मुझको 

माँ मुझको बन्दूक मानेगा दो
में भी लड़ने जाऊंगा ।
दुश्मन जो आएगा आगे ,
उसको मार गिराऊंगा ।

5. तोता 

तोता हूँ में तोता हूँ ,
हरे रंग का तोता हूँ ।
सुन्दर मेरी चाल है
चोंच मेरी लाल है ।
मीठे फल में खता हूँ ,
बागो में उड़ जाता हु ।

6. गिनती 

एक दो तीन चार
आज शनिवार है कल इतवार ।
पांच छः सात आठ
याद करूँगा पूरा पाठ ।
इसके आगे नौ और दस ,
हो गयी गिनती पूरी बस ।

7. तिरंगा झण्डा 

तीन रंग का झण्डा
अपना लहर लहर लहराता ।
जिसे देख हर भारतवासी ,
अपना शीश झुकता ।
कभी न झुकने देंगे इसको
हर बच्चा दोहराता

8. सड़क

सड़क बनी है लम्बी चौड़ी
उस पर चलती मोटर गाड़ी ।
बच्चो तुम पटरी पर चलना ,
बीच सड़क पर कभी न चलना
जाओगे तो पछताओगे
चोट लगेगी गिर जाओगे
रोते रोते घर आओगे ।

9. चंदा मामा

चंदा मामा दूर के
पूए पकाये पुअर के ।
आप खाये थाली में ,
हमें खिलाये प्याली में ।
प्याली गयी टूट ,
मुन्ना गए रूठ ।
नयी प्याली लाएंगे मुन्ने को मनाएंगे ।

10. हाथी

हाथी राजा बहुत बड़े ,
सूंढ़ हिलाकर कहा चले
मेरे घर भी आओ न
हलवा पूरी खाओ न
आओ बैठो कुर्सी पर
कुर्सी बोली चटर पटर 

Post a comment

0 Comments