अलंकार क्या होते है - हिंदी भाषा || What is Alankar

 

अलंकार क्या होते है - हिंदी भाषा || What is Alankar






अलंकार की परिभाषा -

अलंकार दो शब्दों से मिलकर बना होता है | "अलम + कार "। यहाँ पर अलम का अर्थ होता है  "आभूषण " |भाषा तथा काव्य को सुन्दर बनाने के लिए अलंकार का उपयोग किया जाता है | जिस प्रकार स्त्री अपनी सुंदरता तो बढ़ने के लिए आभूषण पहनती है उसी प्रकार हिंदी भाषा को सुन्दर और रचनात्मक बनाने के लिए अलंकार रूपी आभूषण का प्रयोग किया जाता है |

               तात्पर्य ये है की जो शब्द काव्य की शोभा बढ़ाये वो अलंकार कहलाते है |


अलंकार के भेद / प्रकार -

अलंकार को उनके गुणों के आधार पर तीन भागो में विभाजित किया गया है -

1) शब्दालंकार 

2) अर्थालंकार 

3) उभयालंकार 

1) शब्दालंकार -

शब्दालंकार = शब्द + अलंकार | 

शब्द को ध्वनि तथा अर्थ द्वारा प्रदर्शित किया जाता है | शब्दालंकार को ध्वनि के आधार पर उत्पन्न किया जाता है | जब किसी शब्द की स्थति एक विशेष रहे और उसकी जगह उसका पर्यायवाची शब्द प्रयोग में लाने पर उस शब्द का अस्तित्व न रहे वहाँ शब्दालंकार का भाव आता है |

शब्दालंकार के प्रकार -


1) यमक अलंकार 

2) अनुप्रास अलंकार 

3) पुनरुक्ति अलंकार 

4) वीप्सा अलंकार 

5) वक्रोक्ति अलंकार 

6) श्लेष अलंकार 

1) यमक अलंकार-

यमक का अर्थ दो होता है | जब एक शब्द का उपयोग एक से ज्यादा बार होता है परन्तु हर बार उसका अर्थ अलग होता है वहाँ यमक अलंकार होता है |

उदाहरण -

काली घटा का घमंड घटा |

- तीन बेर खाती थी वे तीन बेर खाती हैं | 

2) अनुप्रास अलंकार -

अनु + प्रास = अनुप्रास | अनुप्रास अलंकार दो शब्दों से मिलकर बनता है जिसमे अनु का अर्थ बार - बार तथा प्रास का अभिप्राय वर्ण से होता है | 

           जहाँ एक या एक से अधिक वर्णो की आवृत्ति एक से अधिक बार होती है वहाँ अनुप्रास अलंकार होता है |

उदाहरण -

-मैया मोरी मै नहीं माखन खायो |

-चारु चंद्र की चंचल किरणे खेल रही थी जल थल में |

3) पुनरुक्ति अलंकार -


पुनः + उक्ति = पुनरुक्ति | पुनरुक्ति दो शब्दों से मिलकर बनता है जिसमे पुनः का अर्थ दोबारा और उक्ति का अर्थ दोहराना होता है | जब कोई शब्द दो बार दोहराया जाता है तो वहाँ पुनरुक्ति अलंकार का बोध होता है |

उदाहरण -

-सूरज है जग का बुझा -बुझा  |

-पढ़ते - पढ़ते आँख लग गयी |

4) वीप्सा अलंकार -

जब किसी भाव को प्रभावशाली रूप में प्रदर्शित करने के लिए शब्दों का बार बार प्रयोग किया जाता है , वह वीप्सा अलंकार होता है |इसमें भावो से तात्पर्य हर्ष , उल्लास , शोक , चिंता आदि से है |

उदाहरण -

-या मधुर मधुर मेरे दीपक जल

-राम राम यह बात भूलकर मित्र कभी मत कहना |

5) वक्रोक्ति अलंकार -

वक्रोक्ति अलंकार में वक्त द्वारा कहे गए शब्दों का श्रोता अलग अलग अर्थ निकलता है |

उदाहरण -

-कहाँ भिखारी गयो यहाँ ते,करे जो तुव पति पालो।


6) श्लेष अलंकार -


जब एक शब्द एक ही बार प्रयोग किया गया हो परन्तु उसके कई अर्थ निकलते है , श्लेष अलंकार का बोध होता है |

                जहाँ एक शब्द से विभिन्न अर्थ मिलते है वह श्लेष अलंकार होता है |

उदाहरण -

-चिरजीवो जोरी जुरे क्यों न सनेह गंभीर |
को घटि ये वृष भानुजा, वे हलधर के बीर ||

-सीधी चलते राह जो,रहते सदा निशंक |
जो करते विप्लव, उन्हें, ‘हरि’ का है आतंक ||


2) अर्थालंकार -

जब किसी वाक्य या काव्य का सौंदर्य साज़ उसके अर्थ पर निर्भर होता है वह अर्थालंकार होता है |

अर्थालंकार = अर्थ + अलंकार 

      जिस काव्य रचना में शब्दों के अर्थ के आधार पर काव्य की शोभा बढ़ती है वहाँ अर्थालंकार का बोध होता है |


अर्थालंकार के मुख्यतः पाँच भेद होते हैं -


1) उपमा अलंकार

2) रूपक अलंकार

3) उत्प्रेक्षा अलंकार

4) अतिशयोक्ति अलंकार

5) मानवीकरण अलंकार 

1) उपमा अलंकार-


उपमा का अर्थ तुलना करना होता है | जब किसी व्यक्ति या वास्तु की तुलना किसी और व्यक्ति या वास्तु से की जाती है वहाँ उपमा अलंकार होता है |

उदाहरण -

-सीता के नयन मृग के समान चंचल है |

-मुख चन्द्रमा-सा सुन्दर है |

उपमा अलंकार के 4 गुण होते है - 

i) उपमेय 

ii) उपमान 

iii) समान गुण 

iv) समान वाचक शब्द 

जिस वस्तु की तुलना की जाती है उपमेय कहलाता है , जिससे तुलना की जाती वो वस्तु उपमान कहलाता है | जिस गुण की तुलना की जाती है वो गुण समान गुण कहलाता हैऔर जिस जो शब्द वो दोनों वस्तुओ की तुलना को प्रसिद्द बनता है समान वाचक शब्द कहलाते है |


2) रूपक अलंकार -

रूपक अलंकार को कल्पना अलंकार भी कहा जाता है | रूपक अलंकार में एक व्यक्ति या वस्तु में दूसरे वस्तु व्यक्ति की कल्पना कर ली जाती है | किसी वाक्य में रूपी शब्द प्रयोग होना रूपक अलंकार की पहचान बनता है |

उदाहरण -

-सिर झुका तूने नियति की मान की यह बात |
स्वयं ही मुर्झा गया तेरा हृदय-जलजात ||

-मैया मैं तो चंद्र-खिलौना लैहों |

3)  उत्प्रेक्षा अलंकार -

जहाँ एक वस्तु में दूसरे वस्तु की सम्भावना को बताया जाता है वहाँ उत्प्रेक्षा अलंकार होता है | इस अलंकार में उपमेय में उपमान की सम्भावना होती है |

उदाहरण -

-ले चला साथ मैं तुझे कनक।
ज्यों भिक्षुक लेकर स्वर्ण।। 

-नेत्र मानो कमल हैं। 

4) अतिशयोक्ति अलंकार-

जब किसी गुण , स्थिति या घटना का उल्लेख बड़ा चढ़ा कर प्रदर्शित किया जाता हैं तो वहाँ पर अतिशयोक्ति अलंकार होता हैं | 

उदाहरण -

-धनुष उठाया ज्यों ही उसने और चढ़ाया उस पर बाण |
धरा–सिन्धु नभ काँपे सहसा विकल हुए जीवों के प्राण |

-बालों को खोल कर मत चला करो दिन में ,
रास्ता भूल जाएगा सूरज |

5) मानवीकरण अलंकार -


मानवीकरण का तात्पर्य किसी को मानव बना देने से है | काव्य में जब प्रकृति का वर्णन मानव रूप में किया जाता है , वहाँ मानवीकरण अलंकार की सम्भावना होती है |

उदाहरण -

-बीती विभावरी जाग री,
अम्बर पनघट में डुबो रही घट उषा नागरी|


-फूल हंसे कलियां मुसकाईं। 

3) उभयालंकार -


उभयालंकार शब्द और अर्थ दोनों पर आधारित रहकर काव्य का सौंदर्य बनाता है |ऐसा अलंकार जिसमे शब्दालंकार और अर्थालंकार दोनों के ही गुण शामिल होते है उभयालंकार कहलाता है |

उदाहरण -

कजरारी अंखियन में कजरारी न लखाय |

उभयालंकार के प्रकार / भेद -

i) संकर अलंकार -

जहाँ पर दो या अधिक अलंकार आपस में ‘नीर-क्षीर’ के समान सापेक्ष रूप से घुले-मिले रहते हैं, वहाँ संकर अलंकार होता है |

उदाहरण -

नाक का मोती अधर की कान्ति से,
बीज दाडिम का समझकर भ्रान्ति से।
देखकर सहसा हुआ शुक मौन है,
सोचता है अन्य शुक यह कौन है?

ii) संसृष्टि अलंकार -

जहाँ दो अथवा दो से अधिक अलंकार परस्पर मिलकर भी स्पष्ट रहें, वहाँ संसृष्टि अलंकार होता है |

उदाहरण -

तिरती गृह वन मलय समीर,
साँस, सुधि, स्वप्न, सुरभि, सुखगान।
मार केशर-शर, मलय समीर,
ह्रदय हुलसित कर पुलकित प्राण



Read More

  1. प्रधानमंत्री जन औषधि योजना|| PMJAY 
  2. साप्ताहिक करेंट अफेयर्स : 22 जून से 28 जून 2020 तक | Weekly Current Affair 22 June to 28 June 2020
  3. Difference Between Cash Memory And Main Memory || कैश मेमोरी Vs मेन मेमोरी Vs वर्चुअल मेमोरी
  4. साप्ताहिक करेंट अफेयर्स : 08 जून से 14 जून 2020 तक | Weekly Current Affair 08 June to 14 June 2020
  5. सार्वजनिक पार्क में अवैध निर्माण के बारे में पुलिस आयुक्त को पत्र ||Letter to Commissioner of Police regarding illegal construction in public park
  6. साप्ताहिक करेंट अफेयर्स : 01 जून से 07 जून 2020 तक | Weekly Current Affair 01 June to 07 June 2020
  7. निबंध - भारतीय चुनाव की प्रक्रिया || Process Of Indian Election 
  8.  मित्र को शैक्षिक दौरे के लिए कैमरा मांगने के लिए पत्र || Write A Letter To Friend Asking For Camera For Educational Tour
  9. साप्ताहिक करेंट अफेयर्स : 25 मई से 31 मई 2020 तक | Weekly Current Affair 25 May to 31 May 2020
  10. आई.पी.सी.की धारा 292 में क्या अपराध होता है 
  11. भारतीय राजनीति – आधुनिकता और परंपरा
  12. Insomnia Causes Weight Gain  



















Post a comment

0 Comments