सर्वनाम की परिभाषा और प्रकार - Definition Of Pronoun In Hindi

सर्वनाम की परिभाषा और प्रकार -


सर्वनाम क्या है -

जो शब्द संज्ञा के स्थान पर प्रयोग किया जाता है सर्वनाम कहलाता है | 

सर्व + नाम = सर्वनाम 

जो शब्द सबके स्थान पर प्रयोग हो सर्वनाम कहलाता है | संज्ञा किसी व्यक्ति विशेष या वस्तु विशेष के लिए प्रयोग किया जाता है वही संज्ञा पूर्ण व्यक्ति या वस्तु को दर्शाता है |

उदाहरण के लिए  "राधा एक सुन्दर लड़की है | " इस वाक्य में " राधा " एक संज्ञा है जो सिर्फ राधा नाम की लड़की को दर्शाता है वही " वह एक सुन्दर लड़की है | " इस वाक्य में " वह " शब्द सर्वनाम है जो संसार की किसी भी लड़की के लिए प्रयोग किया जा सकता है |
        सर्वनाम सभी संज्ञा शब्दों के स्थान पर प्रयोग होने वाले वे शब्द हैं जो भाषा को रचना की दृष्टि से सुन्दर बनाने में सहायक होते हैं |

उदाहरण -

" कविता ने कविता की मम्मी से कहा कि कविता आज कविता के स्कूल नहीं जाएगी क्यूंकि आज कविता कि तबियत ख़राब है | "

अब आप इस वाक्य को पढ़िए आपको लगेगा की ये वाक्य कुछ ज्यादा ही लम्बा हो गया है और भाषा की सुंदरता को भी बिगाड़ रहा है | क्यूंकि इसमें हर जगह संज्ञा का प्रयोग किया गया है |

कविता में अपनी मम्मी से कहा कि आज वह स्कूल नहीं जाएगी क्यूंकि उसकी तबियत ख़राब है | "

अब आप इस वाक्य की पढ़िए इसमें सर्वनाम का इस्तमाल हुआ है | जिसके कारण भाषा की सुंदरता के साथ वाक्य छोटा महसूस हो रहा है |

सर्वनाम के प्रकार -

१) पुरुष वाचक सर्वनाम 

       A) उत्तम पुरुष वाचक 

       B) माध्यम पुरुषवाचक 

       C) अन्य पुरुषवाचक 

2) निश्चय वाचक सर्वनाम 

        A) निकटवर्ती निश्चय वाचक सर्वनाम 

        B) दूरवर्ती निश्चय वाचक सर्वनाम

3) अनिश्चयवाचक सर्वनाम 

4) निजवाचक सर्वनाम 

5) प्रश्नवाचक सर्वनाम 

6) संम्बंधवाचक सर्वनाम 

1) पुरुष वाचक सर्वनाम -

जिन सर्वनाम शब्दों का प्रयोग व्यक्तिवाचक संज्ञा के स्थान पर किया जाता है वो पुरुषवाचक सर्वनाम कहलाते है |
       पुरुषवाचक सर्वनाम को तीन भागो में विभाजित किया गया है -

उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम -

जिन सर्वनाम शब्द का प्रयोग बोलने वाला व्यक्ति स्वयं के लिए करता है , उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम कहलाते है |

जैसे - मैं , मेरा , मूझसे , मुझे , हमें , हमारा , हमारे |

मेरा घर बहुत दूर है |

माध्यम पुरुषवाचक सर्वनाम -

जिन सर्वनाम शब्दों का प्रयोग बात सुनने वाले व्यक्ति के लिए किया जाता है , माध्यम पुरुषवाचक सर्वनाम कहलाते है |

जैसे -तुम , तुम्हारा , तेरा , आपका , आप आपसे आदि |

आप बहुत अच्छी बातें करते है |

अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम - 

वो सर्वनाम शब्द जो किसी अन्य व्यक्ति के लिए किया जाता है , अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम कहलाते है |

जैसे - वह , उसे , उसके , उनका , इन्होने , इनके  आदि |

वह बाहर का खाना पसंद नहीं करता है |

2) निश्चय वाचक सर्वनाम -

जिन सर्वनाम शब्दों से किसी निश्चित व्यक्ति या वस्तु का बोध होता है निश्चयवाचक सर्वनाम कहलाते है |
जैसे - ये , वह , वो , यह आदि 
निश्चयवाचक सर्वनाम को दो भागो में विभाजित किया गया है -

निकटवर्ती निश्चय वाचक सर्वनाम -

जो शब्द निकट की वस्तुओं का निश्चय रूप से बोध कराये , निकटवर्ती निश्चयवाचक सर्वनाम कहलाते है |
जैसे ये , यह आदि |

ये तस्वीर मेरी है |
यह मेरा बैग है |

दूरवर्ती निश्चय वाचक सर्वनाम -

जो सर्वनाम शब्द दूर की वस्तुओं का निश्चित रूप से बोध कराते है , दूरवर्ती निश्चय वाचक सर्वनाम कहलाते है |
जैसे - वह , वो , वे आदि |

वो मेरे स्कूल का विद्यार्थी है | 

3) अनिश्चयवाचक सर्वनाम -

जिन सर्वनाम शब्दों द्वारा व्यक्ति या वस्तु का निश्चित रूप से बोध ना हो , अनिश्चिय वाचक सर्वनाम कहलाते है |

जैसे - कोई , कुछ , किसी , कौन , किसने , जहाँ आदि |

मेरा पर्स कहीं गिर गया है | 
रमेश से आज कोई मिलने आया था |

4) निजवाचक सर्वनाम -

जो सर्वनाम शब्द बोलने वाला व्यक्ति स्वयं के लिए प्रयोग करता है , निजवाचक सर्वनाम कहलाते है |

जैसे - खुद , स्वयं , अपने आप , आप ही आदि |

मैं खुद से अपना काम करुगा | 
तुम स्वयं ही स्कूल जा सकते हो |

5) प्रश्नवाचक सर्वनाम -

जिन सर्वनाम शब्दों से किसी वाक्य में प्रश्न का बोध होता है , प्रश्नवाचक सर्वनाम कहलाता है |

जैसे - कैसे , कौन , कहाँ आदि |

तुम कैसे हो ? 
तुम्हारा घर कहाँ है ?

6) संम्बंधवाचक सर्वनाम -

जिन सर्वनाम शब्दों से वाक्य में किसी दूसरे सर्वनाम शब्द से सम्बन्ध ज्ञात होता है वो सम्बन्धवाचक सर्वनाम कहलाते है | 

जैसे - जैसा - वैसा , ज्यों - त्यों , यहाँ - वहाँ आदि |

वो कौन है जो सो रहा है |
जैसा करोगे वैसा भरोगे |

ये भी जाने - 

























Post a comment

0 Comments