बचत खाता और चालू खाता में अंतर || Difference Between Saving Account And Current Account


आज कल के युग में बैंक में किसी व्यक्ति का खाता न हो ऐसा हो ही नहीं सकता | जब से पीएम जनधन योजना शुरू हुई है तब से गरीब से गरीब व्यक्ति का खाता भी है | खाता खुलवाते समय क्या आपने कभी ध्यान दिया है की खाते को दो भागो में विभाजित किया गया है एक बचत खाता और दूसरा चालू खाता |तो आइये एक एक करके दोनों प्रकार के खातों के बारे में जानकारी लेते है |


बचत खाता (Saving Account) -

बचत खाता अपने नाम के अनुरूप ही होता है ये एक आम आदमी के लिए ज्यादा लाभदायक होता है | बचत खाते में खाताधारक थोड़ा धोड़ा पैसा जमा कर सकता है और उसका ब्याज पा सकता है |ब्याज की दर ज्यादातर बैंक में 3 से 4 प्रतिशत होती है | ये खाता इंसान द्वारा बचाये गए पैसो की सुरक्षा के साथ साथ ब्याज का भी लाभ प्रदान करता है |बचत खाते में ग्राहक को एक न्यूनतम राशि (Minimum Balence) अपने खाते में रखना अनिवार्य होता है | ये राशि बैंक द्वारा निर्धारित होती है | बचत खाता छोटी-छोटी बचत, फिक्स इनकम जैसे सैलरी के लिए खोलते हैं | स्टूडेंट, हाउस मेकर, पेंशनर और वरिष्ठ नागरिक वगैरह इस खाते का ज्यादा फायदा उठाते है |

चालू खाता ( Current Account) -

चालू खाते का प्रयोग ज्यादातर बिजनेसमैन , कंपनी , फैक्ट्री और कारोबारी करते है | यह खता कारोबारियों के हिसाब से बनाया गया है |इसमें इंसान दिन में कई बार पैसे जमा और निकल सकता है |यहाँ पैसे का लेन - देन (Transaction) कभी भी हर समय किया जा सकता है | जब पैसे का का लेने देन बड़े पैमाने में किया जाता है तो चालू खाते का इस्तमाल किया जाता है |

बचत खाता और चालू खाता में अंतर ( Difference Between Saving Account And Current Account) -

1) बचत खाता आम आदमी के लिए बनाया गया है जो कि पैसे बचाना चाहता है और प्याज राशि का फायदा उठाना चाहता है , जबकि चालू खाता व्यापारियों के लिए होता है जो पैसो का लेन -देन बड़े पैमाने में करते है | 

2) बचत खाते में लेन - देन की ( Transection ) की लिमिट होती है परन्तु चालू कहते में कोई लिमिट नहीं होती है |

3) न्यूनतम राशि बचत तथा चालू दोनों खातो में रखना अनिवार्य है परन्तु बचत खाते में चालू खाते से न्यूनतम राशि कम होती है |

4) बचत खाता कोई आम आदमी जैसे स्टूडेंट , किसान , होममेकर आदि खुलवाते है वहीं चालू खाता व्यापारी खुलवाते है |

5) बचत खाते में हर साल 3 से 5 प्रतिशत ब्याज दर से ब्याज मिलता है | चालू खाते में बहुत कम ब्याज मिलता है कोई कोई बैंक तो ब्याज देती ही नहीं है |

ये भी जाने -













Post a comment

0 Comments