Difference Between http And https || http और https में अंतर

Difference Between http And https 




HTTP क्या है ?


HTTP का फुल फॉर्म Hypertext Transfer Protocol है।  http नियमों ( set of rules) का समूह प्रदान करता है जो यह बताता है कि कैसे वर्ल्ड वाइड वेब ( www)  पर किसी भी जानकारी को प्रसारित किया जा सकता है।  http वेब ब्राउज़र और सर्वर को संचार के लिए मानक नियम प्रदान करता है।

HTTPs क्या है ?

HTTPS का मतलब हाइपर टेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल सिक्योर है।  यह HTTP का अत्यधिक उन्नत और सुरक्षित संस्करण है।  यह पोर्ट नं 443  डाटा संचार के लिए उपयोग करता है | यह SSL के साथ पूरे संचार को एन्क्रिप्ट करके सुरक्षित लेनदेन की अनुमति देता है।  यह एसएसएल / टीएलएस प्रोटोकॉल और HTTP का संयोजन है।

HTTP और HTTPS में अंतर -


1) http का पूरा नाम हाइपर टेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल होता है जबकि https का पूरा नाम हाइपर टेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल विथ सिक्योर होता है |

2) http में Url की शुरुआत "http: //" से होती है जबकि https में Url की शुरुआत "https: //" से होती है |

3) http पूरी तरह सुरक्षित नहीं होता है जबकि https सिक्योरिटी के साथ होता है इसलिए जब भी आप ऑनलाइन बैंकिंग या पैसो का आदान प्रदान नेट पर करते है तो ध्यान दे वह https इस्तमाल करे |

4) http में डाटा एनक्रिप्शन ( Data Encription ) नहीं होता है जबकि https में डाटा एनक्रिप्शन होता है | जिसके कारण https में कोई तीसरा इंसान सही जानकारी को समझने में असमर्थ होता है |

5) HTTP को किसी प्रमाणपत्र ( Certificate ) की आवश्यकता नहीं है और HTTPS को SSL प्रमाणपत्र की आवश्यकता है |

6) http पर खोली गयी वेबसाइट जल्दी खुलती है क्यूंकि इसमें कोई भी सिक्योरिटी लेयर नहीं होती है जबकि https में खोली गयी वेबसाइट ज्यादा समय लेती है क्यूंकि इसमें जानकारी को सुरक्षित रखने के लिए सिक्योरिटी लेयर होती है |

7) http डिफ़ॉल्ट रूप से पोर्ट 80 का उपयोग करता है जबकि https  डिफ़ॉल्ट रूप से पोर्ट 443 का उपयोग करता है |

ये भी जाने - 












Post a comment

0 Comments